Speech on Hindi language in Hindi

आज हम लिखने वाले हैं हिंदी भाषा पर भाषण (speech on Hindi language in Hindi) इस भाषण का उपयोग आप कहीं भी एक अच्छा भाषण देने में कर सकते हैं।



Speech on hindi language in hindi। हिंदी भाषा पर भाषण।

यहां उपस्थित प्राचार्य महोदय उपप्राचार्य महोदय सभी शिक्षक गण और मेरे प्यारे भाईयो और बहनों सभी को सुप्रभात।
मै अ ब स (अपना नाम) आज में आपके समक्ष अपनी मातृभाषा हिंदी भाषा पर अपने विचार लेकर उपस्थित हूं।
 
मै अपने भाषण की शुरुवात करता हूं।

जैसा कि आप सभी को ज्ञात है। हिन्दी भाषा भारत की मुख्य व सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है। हिंदी भारत के अलावा पाकिस्तान, भूटान, मारिशस, यमन, सिंगापुर, चीन, जापान, युगांडा, मालदीव और श्रीलंका जैसे देश में भी बोली जाती है।

हिंदी भाषा में कुल 52 वर्ण है जिसके अंतर्गत 13 स्वर और 39 व्यंजन है। इस भाषा को काफी आसानी से समझा व बोला जा सकता है। आपकी जानकारी के लिए बता दूं भारत में आधी से ज्यादा जनसंख्या बोलने में हिंदी भाषा का प्रयोग करती हैं।

हिंदी को हम आम बोलचाल में, भारत के सरकारी दफ्तरों में, स्कूलों में, कॉलेजों में व बड़े-बड़े नेताओं द्वारा भाषण में उपयोग किया जाता है।

हिंदी के इतिहास कि अगर में बात करूं तो सर्वप्रथम हमारे देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने हिंदी भाषा को सन 1917 में राष्ट्रभाषा बनाने का सपना देखा था। तत्पश्चात कई लोगों ने इनका साथ भी दिया लेकिन अंग्रेजों से लड़ाई और देश को स्वतंत्रता दिलाने के चक्कर में इस पर ध्यान नहीं दिया गया।

तत्पश्चात भारत को स्वतंत्रता प्राप्त होने व संविधान निर्माण के दौरान हमारी हिंदी भाषा पर ध्यान दिया।

14 सितंबर 1949 को हमारी संविधान सभा ने पहली बार हिंदी को राजभाषा का दर्जा प्रदान किया। तत्पश्चात 26 जनवरी 1950 को इसे अधिकारीक भाषा बनाया गया। और 3 वर्षों पश्चात 14 सितंबर 1953 को प्रतिवर्ष हिंदी दिवस मनाने की घोषणा की। 

हिंदी को बढ़ावा देने और इसका प्रचार करने के लिए हम प्रतिवर्ष 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में मनाते हैं। भारत के लोगों को जागरूक करने के लिए जगह-जगह भाषण बाजी व इसकी महत्वता तो बताते हैं।

हिंदी दिवस के शुभ अवसर पर प्रत्येक विद्यालय, सरकारी कार्यालयों में हिन्दी भाषा का उपयोग किया जाता है। और एक दूसरे को इसका उपयोग करने की हिदायत दी जाती है।

विश्व स्तर पर प्रचार करने के लिए हमारे देश के नेताओं का कई तरह से महत्वपूर्ण योगदान रहा है। आपको बता दें सन 1975 से 10 जनवरी को प्रतिवर्ष विश्व स्तर पर हिंदी दिवस का आयोजन किया जाता है।

हमें गर्व है कि हमारी आम बोलचाल की भाषा विश्व स्तर पर उभरती नजर आ रही हैं और अपनी पहचान बना रही है।

वर्तमान समय में हम देख रहे हैं। कुछ स्थानों या क्षेत्रों में इसका उपयोग कम होता जा रहा है। और इसकी जगह विदेशी भाषा अंग्रेजी को महत्व दिया जा रहा है। हमें इसके प्रति जागरूक होना होगा और लोगों को हिंदी भाषा अपनाने के प्रति बढ़ावा प्रदान करना होगा।

अंत में मैं यही कहूंगा कि आप सभी भी हमारी आन बान शान हमारी मातृभाषा हिंदी का सम्मान करें जहां तक हो सके सिर्फ इसी का प्रयोग करें। और अपने आस-पास गांव-गली घर परिवार में इसके प्रति लोगों को जागरूक करें।

धन्यवाद...

दोस्तों कैसा लगा आपको हिन्दी भाषा पर भाषण (speech on Hindi language in Hindi) पसंद आया हो तो अपने साथियों के साथ अवश्य साझा करें।

यह भी पढ़े -


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ